Verse: Moon

ठंडी छाँव सा,
नीलम चमकता हुआ,
महरूम गर हो कभी ख़ुशी से तो,
क्या वो चाँद भी धरती को देख कर सुकून पाता होगा ?

-Priya Soni

Image Source: Google

Advertisements